जिस्म की जरूरत-13

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Jan 30, 2018.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    //in.tssensor.ru rishton me chudai अपनी मम्मी के मुँह से ऐसी मस्त बातें सुनकर विजय का लोहे जैसा सख्त लण्ड और तेजी से मेरी टाईट गाँड़ के छेद के अंदर बाहर होने लगा, और वो भी झड़ने की कगार पर पहुँच गया था।

    ***

    "आह्ह, मम्मी बस मैं झड़ने ही वाला हूँ. आपकी मस्त गाँड़ में मैं सारा पानी निकाल दूँगा. ओह मम्मी आपकी गाँड़ तो कमाल की है।"

    loading...

    "हाँ बेटा निकाल दो अपना सारा पानी अपनी मम्मी की गाँड़ में.भर दो इसको अपने पानी से." मैं हांफ़ते हुए झड़ने के करीब पहुँचते हुए बोली।

    विजय तो मानो जन्नत की सैर कर रहा था, उसने अपने लोहे की रॉड जैसे लण्ड के अपनी मम्मी की गाँड़ में दो चार जोर जोर के झटके लगाने के बाद, एक बार जोर से अंदर तक लण्ड पेलते हुए ढेर सारा वीर्य का पानी मेरी गाँड़ में निकाल दिया। मैंने जैसे ही अपनी गाँड़ में उसके गरम गरम पानी को महसूस किया मैं भी उसी वक्त झड़ गयी। हम दोनों माँ बेटे एक साथ झड़ते हुए खुशी से जोर जोर से तरह तरह की आवाजें निकालने लगे।

    झड़ने के कुछ देर तक विजय मेरी गाँड़ में वैसे ही अपना लण्ड घुसाये रहा, झड़ने के बाद मेरी गाँड़ का छेद सिंकुड़ कर विजय के लण्ड को भींच कर दबा रहा था। और फ़िर जब विजय ने अपना लण्ड मेरी गाँड़ में से बाहर निकाला तो मेरी गाँड़ का खुले हुए छेद में से फ़च्च की आवाज आयी। विजय फ़िर मेरे पीछे पींठ के पास निढाल होकर लेट गया, और मुझे अपनी बाँहों में भर लिया।

    कुछ देर बाद मेरे बदन को सहलाते हुए जब विजय का एक हाथ मेरी चूत पर पहुँचा, तो दो ऊँगलियाँ मेरी चूत में घुसाते हुए विजय मेरे कान में फ़ुसफ़ुसाया, "मम्मी आप तो बहुत ज्यादा पनिया रही हो, क्या मुलायम मस्त चिकनी गीली चूत हो रही है।"

    विजय का लण्ड मेरी चिकनी गाँड़ की दरार में घुसने का प्रयास कर रहा था, और उसकी ऊँगलियाँ मेरी चूत में अंदर बाहर हो रही थी। मैंने अपना सिर घुमा कर विजय के चेहरे की तरफ़ देखा, मैं उसकी कराह में चूत में लण्ड घुसाने की तड़प को समझ रही थी।

    "अपने लण्ड को मम्मी की चूत में घुसाना चाहते हो," मैंने उसके गाल पर हाथ फ़िराते हुए मुस्कुराते हुए पूछा, "क्यों बेटा मन कर रहा है ना अपनी मम्मी की चूत को चोदने का?"

    विजय ने अपने लण्ड को मेरी गाँड़ की दरार में जोर से घिसते हुए, और मेरी चूत में जोरों से अपनी ऊँगलियाँ अंदर बाहर करते हुए, हामी में सिर हिला दिया। विजय के चेहरे पर मासूमियत थी, मुझे उस पर प्यार आ गया, और मैंने उससे पूछा, "लेकिन क्यों बेटा? मम्मी की गाँड़ मार के मन नहीं भरा क्या?"

    "ओह्ह्ह, नहीं मम्मी ऐसी बात नहीं है, आपकी गाँड़ तो बहुत अच्छी है, बहुत बहुत अच्छी है।"

    मुझे उसकी बात में इमानदारी और धन्यवाद के भाव प्रतीत हुए। मैंने विजय को अपने आप से और जोरों से चिपका लिया, और उसके होंठों को जोर से चूम लिया। असलियत में मेरी चूत विजय के लण्ड को अपने अंदर लेना चाहती थी, और इस मुकाम तक आने के बाद वापस लौटने का कोई मतलब नहीं था। मैं विजय के लण्ड को अपने हाथों से मुठिया चुकी थी, उसको अपने मुँह में और मम्मों के बीच ले चुकी थी, और तो और अपनी गाँड़ भी मरवा चुकी थी। हम दोनों वासना और हवस के खेल में बहुत आगे निकल चुके थे, हम दोनों के जिस्म की जरूरत हम दोनों को बेहद करीब ले आयी थी।

    समाज की वर्जनाओं को तोड़ते हुए हम माँ बेटे जिस पड़ाव पर पहुँच चुके थे, वहाँ पहुँचने के बाद चूत में लण्ड को घुसवाने या ना घुसवाने का कोई अर्थ नहीं बचा था। और वैसे भी विजय का लण्ड पहली बार किसी चूत का स्वाद चखने वाला था, तो फ़िर वो मेरी चूत का ही क्यों ना चखे? विजय पहली बार किसी चूत को चोदने वाला था, और वो भी अपनी मम्मी की चूत।

    उस वर्जित कार्य को करने से पहले ये सब सोचते हुए मेरे गदराये बदन में उत्तेजना की एक लहर सी दौड़ गयी। मेरा बेटा विजय अपना लण्ड उस चूत में घुसाने वाला था, जिस में निकल कर वो इस दुनिया में आया था, और ये वो ही चूत थी, जिस में वो अपने जीवन के पहले तजुर्बे में किसी चूत में अपना लण्ड घुसाने वाला था। इससे बेहतर और क्या हो सकता था?

    ये सब सोचकर, मैंने किस तोड़ते हुए कहा, "हाँ, बेटा।"

    विजय ने अविश्वास में अपनी आँख झपकाईं, उसकी ऊँगलियाँ मेरी पनिया रही चूत में कोई हरकत नहीं कर रही थी, और उसके लण्ड के मेरी गाँड़ की दरार में झटके भी शांत थे। वो मेरी बार सुनकर तुरंत समझ गया, लेकिन फ़िर भी उसने हकलाते हुए पूछा, "सचमुच मम्मी?"

    मैं विजय की बाहों में मचल रही थी, विजय के लण्ड को अपनी गाँड़ के छेद पर दस्तक देते, और उसकी ऊँगलियों को मेरी चूत में घुसे हुए, उसके लण्ड को अपनी चूत में लेने का ख्याल ही मुझे कई गुना उत्तेजित कर रहा था। "हाँ, बेटा," मैंने हामी में सिर हिलाया और अपनी गाँड़ को थोड़ा पीछे खिसकाते हुए उसके लण्ड पर घिस दिया। "हाँ, बेटा जिस दिन तुम मेहनत कर के इतना पैसा जोड़ लोगे और अपनी टैक्सी खरीद कर ले आओगे, उस दिन मैं तुमको वो इनाम दूँगी जो तुम कभी नहीं भूल पाओगे, तुम को ईनाम में मेरी चूत चोदने को मिलेगी, हाँ बेटा, मैं तुझे बहुत प्यार करती हूँ बेटा।
     
Loading...
Similar Threads Forum Date
जिस्म की जरूरत-11 Hindi Sex Stories Jan 30, 2018
जिस्म की जरूरत-14 Hindi Sex Stories Jan 30, 2018
जिस्म की जरूरत-12 Hindi Sex Stories Jan 30, 2018
जिस्म की जरूरत-15 Hindi Sex Stories Jan 30, 2018
जिस्म की जरूरत-17 Hindi Sex Stories Jan 30, 2018
जिस्म की जरूरत-16 Hindi Sex Stories Jan 30, 2018

Share This Page


Online porn video at mobile phone


प्रवीण ने गाड़चोदाभाभी की छूत me laund ने हलचल मचाई कहनीमजदूरन चुदाईnet centar లొ పూకుల కథలుகிராமத்து அக்குள் காமக்கதைভালো করে চোদ পারভিনநண்பர்களே ! ஒரு 18 வயது , கல்லூரி செல்லும் கன்னி பெண்ணை ஒரே நாளில் மொபைல் sms மூலம் மடக்கிমাকে লুকিয়ে চুদতে দেখলামবিবাহিত মহিলাদের অবৈধ যৌন চটিমা ওর বেট সাত sex.vldeo চুদা চুদিనా కొడుకు మొడ్డే న పుకు కి దిక్కుগাডিতে xxx চুদা চুদী vido.comఅతనితో మా ఆవిడ దెంగుడు సెక్స్ స్టోరీస్உச்சகட்டம் sex mp4. தூங்கும் போது தெரியாமல் sex. வீடியோ. தமிழ்guder vetormall outmalver hocce sex মাকে চিত করে চুদলামஆண்டியுடன் நாயும் desixossiptamil aunty thavideya kathaiబావ నా పూక అక్క పూక కలిపి దెంగాడుमराठी ताई लवडा मांडीBangla hot choti শস্বুর নিজের বৌমাকে জোড় করে চুদে দিলেনதேவிடியா புண்டைக்கு புஷ்பா கதைட்ரீட்மெண்ட் காம கதைபிச்சைக்காரி காமகதைaundi sex oluநந்தவனம் தமிழ் காமக்கதைகள்இரவில் டீச்சர் xossipரசிச்சி ரசிச்சி செய்த ஓல் கதைচুদার কারখানাମାଇଂ କୁ ଗେହିଲିthamilkamakathaigal'sex'vediyotamil kamakathaikal aunty ku pal abhishekamxkamini ..com t asomiya sex kahiniকাকিমার পাছায় ধোন xxx videoপারকিয়া চুদাচুদি দেখার বাংলা চটিammave nanban oothan tamil sexstoriesBus li aunty jothe journey kannada sex storyचुदाई की शौकीन मेरी सासNew. Antrvsan. Sex. Stroyஅக்காவை கர்ப்பம் ஆக்கினேன் தமிழ் காம கதைnet centar లొ పూకుల కథలుഡാഡി കുണ്ണஅத்தை காம xxxxx sexलहान सालीची संभोग कथाଓଡିଆ sex କାହାଣିকামনার জ্বর বাংলা চটি গল্পവില്ലു പോലെ വളഞ്ഞു indian sexstoriesখাওয়া নাওয়ার সময় চোদার চটিமனைவி முன்னே ஓத்த கதைপ্রতিনিধী পতা শেষ অধ্যায় bangla chotiহোটেলে গিয়া মাগির পাছা চোদার চটিও ও ও আর দুধ টিপো না এবার জোরে চোদblack pukllu sax fornxxx কিবা মেদেয় সকகூதி தினவு காம கதைआंटी ने जबरदसती चुत चुदवाली Nanum en nanbanum sex talil storiesमैना मराठी सेक्सी कथामैत्रीणीची पुच्चीvidoetelugusexদাদা তোর দুষ্টু বোনকে চোদ।छटपटाना xvideoMummy ne unghma chodiचोद्ने वालीস্যারের সাথে rep sex golpoಹೂಸ ತುಣ್ಣೆ ಹಳೆ ತುಲ್ಲಿನ ಕತೆx** video chut mein ungli Karke chaurahe land bhosdi kaஅக்கா துக்கத்தில் ஓத்த கதைபுண்டைவெறி மாமியார் கதைகள்बहकती बहूകൊച്ചുപുസ്തകം sexchoti - জুলি xossip