मकान मालकिन की आग बुझाई

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Oct 20, 2017.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    Joined:
    Aug 28, 2013
    Messages:
    138,639
    Likes Received:
    2,184
    //in.tssensor.ru मकान मालकिन की आग बुझाई

    Makan malkin ki aag bujhayi:
    मेरा नाम अभिजीत है | मैं इन्जीनियरिंग का का स्टूडेंट हूँ | मैं जब भी परेशान होता हूँ, सेक्स स्टोरी पढ़ कर अपना मन हल्का कर लेता हूँ | आज मैंने सोंचा की मैं दूसरो की स्टोरी पढता हूँ क्यों ना अपनी भी एक स्टोरी लिख डालू क्यूंकि मैंने भी बहुत सी चूतों की प्यास बुझाई है मैं क्या किसी से कम हूँ | मेरा रंग सावला है | मेरे सहजादे की लम्बाई लगभग 5.4 इंच है | मेरे लंड की लम्बाई और मोटाई देख कर बहुत सी भाभियों और कुंवारी कन्याओ की चूत गीली हो जाती है |

    अब बात करता हूँ अपनी स्टोरी की ...
    मैं कोलकाता का रहने वाला हूँ इन्जीनियरिंग की पढाई के लिए अब वाराणसी मैं रहता हूँ |मैं वाराणसी मैं जहाँ किराये से रहता था | वहां के मकान मालिक का नाम राघव था वो ज्यादातर बिजनेस के कारण घर से बाहर रहते थे उनकी पत्नी नाम अलका था मैं उन्हें अलका भाभी कहा करता था भईया के घर न होने पर वो मुझ पर डोरे डालती थी क्युकी उन्होंने एक बार बिना कपड़ो के देख लिया था |मैं नहाने जा रहा था |मैंने सिर्फ अंडर वियर पहेन रखी थी|सुबह का समय था | इस वजह से मेरा लंड हिमालय की तरह खड़ा था |उन्हें मेरे लंड का साइज़ पता चल गया तब से वो मेरे पीछे पड गयी पर मैं तो उनकी लड़की के पीछे पड़ा था |जिसका नाम सोनी था | एक दिन अलका भाभी को कुछ सामान मगना था और वो आ गयी |मैं उनको देखकर शर्मा गया और तौलिया बंधने लगा |तो उन्होंने कहा अरे अभिजीत तौलिया क्यों बाँध रहे हो तुम ऐसे ही बहुत सेक्सी लगते हो |मेरे पैरों के नीचे से जमीन निकल गयी |क्युकी मैंने उनके बारे मैं कभी ऐसा नहीं सोंचा था |पर माल भाभी भी मस्त थी | जब वो घर से बाहर निकती थी |तो गली के सारे लडको का लंड बेकाबू होने लगता था | हर लड़का उसी का दीवाना था |उसके बड़े-बड़े बूब्स देख कर बस मन कहता था की बस उन्हें हाँथ मैं लेकर घंटो उनसे खेलता रहूँ उसके मस्त चूतडो को देख कर तो बुड्ढो को भी जवानी आ जाये | जब वो अपनी गांड मटका कर चलती थी कसम से दिमाक ख़राब हो जाता था | पर डरता भी था की मकान मालिक की बेटी है कुछ गड़बड़ हो गयी तो रूम से भी हाथ धोना पड़ेगा इसी लिए अपने दिल के अरमानो को मैं मन मैं ही दबा लेता था | लेकिन मकान मालकिन की बात सुनकर तो मेरा दिमाग ही खराब हो गया | उनके आने से मैं पहले तो शर्मा रहा था | भाभी की तौलिया वाली बात सुनकर मुझे शक हुआ की भाभी मुझ पे लाइन मार रही है | मैंने भाभी से कहा आप क्यों आयी ऊपर मुझे निचे बुला लिया होता | भाभी मुझे वासना की नजरों से दे ख रही थी मेरे बोलने पर उनका ध्यान मेरी तरफ से हटा और कहने लगी अरे अभिजीत क्या मैं बूढी लगती हूँ | तो मेरे मुह से निकल गया अरे नहीं आप अभी मस्त पटाका लगती हो | फिर मैंने सोंचा अरे मेरे मुह से ये क्या निकल गया तो मैंने कहा सॉरी भाभी मेरे मुह से पटाका वाली बात निकल गयी | उन्होंने कहा अरे कोई बात नहीं तुम तो मेरे देवर जैसे हो और तुम मुझे भाभी नहीं भाभी बोला करो मुझे तो लग रहा था जैसे मेरी लाटरी लग गयी है | मैंने कहा तो भाभी आप को क्या मगाना था | उन्होंने कहा अरे मैं तो सोच कर आयी थी तुम मुझे देख कर खुस हो जाओगे पर तुम तो शर्मा रहे हो| मैंने कहा ऐसी कोई बात नहीं है भाभी आज से मैं आपको भाभी ही कहूँगा |बताओ क्या लाना है तो उन्होंने सामान की पर्ची मुझे देकर कहा लाके नीचे ही दे देना |सामान लेकर मैं जब वापिस आया तो मैंने डोर बेल बजाई तो आवाज भाभी की आवाज़ आयी अभीजीत अन्दर आ जाओ दरवाजा खुला है | मैं अन्दर घुसा तो घर मैं कोई नहीं था | सायद मकानमालिक काम पर गए थे और सायद सोनी कॉलेज गयी हुई थी | उसका इस साल 10+2 का लास्ट इयर था | अन्दर जाकर मैंने बोला की भाभी सामान मैंने मेज़ पर रख दिया है |मैं जा रहा हूँ कालेजतो बाथरूम से भाभी बोली अरे अभी जरा सामान से साबुन निकाल कर देना |मैं बाथरूम मैं गीली हो चुकी हू | मैं बाहर साबुन लेने आयी तो फर्श गीली हो जाएगी | मेरे तो कुछ समझ मैं नहीं आ रहा था की क्या हो रहा है मैं सपना तो नहीं देख रहा फिर मैं साबुन लेकर बाथरूम के पास गया तो भाभी ने पूरा दरवाज़ा खोला तो मेरी ऑंखें फटी की फटी रह गयी भाभी सिर्फ पेटीकोट ब्लाउज मैं मेरे सामने कड़ी थी भीगी होने की वजह से सफ़ेद ब्लाउज के अन्दर की काली ब्रा से चुचियों की घुंडी साफ़ चमक रही थी | और उनका पेटीकोट भी भीगा होने की वज़ह से उनकी चूत का आकार साफ़ उभर कर दिखाई दे रहा था |मुझे लग रहा था की जैसे मैं बाथरूम के दरवाजे पर न खड़ा होकर जन्नत के दरवाजे पर खड़ा हूँ | तभी भाभी ने टोका क्या हुआ अभी कहा खो गए | मैं उनकी आवाज़ से एकदम चौंक गया | मैं साबुन देकर उलटे पाँव वापिस आने लगा | तो भाभी फिर बोली क्या हुआ अभी नजारा अच्छा नहीं लगा क्या | मैंने कहा नहीं भाभी ऐसी बात नहीं है पर ये गलत है | मन तो मेरा भी कह रहा था की वही बाथरूम में ही रगड़ दूँ पर मैंने सोंचा की इतनी जल्दी ठीक नहीं है | तब तक भाभी बोल पड़ी अरे इसमें क्या है मैंने तुम्हे नहाते हुए देखा था | तुमने मुझे देख लिया हिसाब बराबर हो गया | तो मजाक मैं मैंने भी बोल दिया लेकिन भाभी आपने तो मुझे सिर्फ अंडरविअर मैं देखा था | और आप ने तो ब्लाउज पहेन रखा है | तो भाभी बोली ओहो इतनी भी जल्दी क्या है बिना ब्लाउज के भी दिखा दूँगी पर तुम तैयार तो हो देखने के लिए | इतना सुनते ही मेरा साहस और बढ़ गया मैंने कहा भाभी मैं तो जब कहे तैयार हूँ देखने के लिए बस आप अपनी बात पर अटल रहना |भाभी ने कहा अरे इतनी जल्दी भी क्या है मेरे अभी राजा थोडा सब्र रखो |आज रात को अपने रूम का दरवाज़ा खुला रखना मैं आउंगी हिसाब पूरा करने |मैंने भी कहा क्यों नहीं मेरी जान और फिर भाभी आजा मेरे राजा और मुझे अपनी ओर खींच कर चुम्मा देने लगी |मैं तो इसी पल के इंतज़ार मैं था मैंने भी भाभी को कास के बाहों मैं भरा और एक जोरदार किस किया क्या रसीले होंठ थे | कसम से मज़ा आ गया मैंने सोंचा की जब इनकी होंठो मैं इतना रस है तो इनकी चूत कितनी रसीली होगी | ये सब सोंच कर मैं उनको होंठों से लेकर गर्दन तक चूम रहा था और उनकर मम्मो को ब्लाउज के ऊपर से ही मसल रहा था |वो धीरे-धीरे गर्म होने लगी थी तभी अचानक डोरबेल बजी मेरी तो गांड ही फट गयी | मैंने सोचा की मकान मालिक आ गए | गांड तो अलका भाभी की फट गयी थी पर मैं तुरन्त वह से हटा अपने कपडे ठीक किये जो की हलके गीले हो चुके थे और जाकर दरवाजा खोला तो सामने सोनी खड़ी थी | सायद आज उसके कालेज मैं आज जल्दी छुट्ठी हो गयी थी |मैं तो उसे देखता ही रह गया | तब तक अलका भाभी बाथरूम के अन्दर से स्नान करके बाहर आ गयी |और सोनी से पूछा की क्या हुआ सोनी आज जल्दी घर आ गयी तो उसने कहा की मम्मी आज हाफ डे के कारण जल्दी छुट्टी हो गयी | अलका भाभी ने कहा ठीक है कोई बात नहीं चलो चेंज करके खाना खा लो | मैंने कहा अच्छा भाभी तो मैं चलता हूँ आपने जो सामान मंगाया था ये मेज़पर जो पोलीथिन राखी है उसमे है | अलका भाभी बोली अरे अभी तु भी खाना खा के जाना मैंने भी सोंचा चलो इसी बहाने सोनी की चुचियो और गांड की चौड़ाई की नाप ले लूँगा | मैं रुक गया तब तक सोनी चेंज करके आ गयी थी | कमाल लग रही थी गुलाबी कैफरी और सफ़ेद टॉप मैं उसके मम्मो को देख कर लग रहा था जैसे दो आजाद कबूतरों को पिंजड़े मैं कैद कर दिया हो और वो बाहर निकलने के लिए फडफडा रहे हो | तब तक भाभी ने खाना लगा दिया और हम सब खाना खाने बैठ गए मैं तो कनफ्यूज हो रहा था की माँ की गांड मस्त है की बेटी की | भाबी भी काली नाइटी मैं गज़ब ध रही थी | मेरी नजर तो उनकी उठी हुई घुंडियो हट ही नहीं रही थी वो मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी सोनी हम दोनों को देख रही थी क्योंकि जब मैंने दरवाज़ा खोला था तो मेरा लंड 360 अंश का कोण बना रहा था और मेरे कपडे भी हल्के गीले थे |इसीलिए मैंने सोंचा की अब मेरा जल्दी निकलना ही ठीक है | और मैं वह से चला आया और रात होने का इंतज़ार करने लगा समय लग रहा था बहुत धीरे चल रहा मैं भाभी की चूत के ख्यालों मैं डूबा गया और इंतज़ार की घडी ख़त्म हुई और मेरा और अलका भाभी का मिलन हुआ | रात के ग्यारह बजे भाभी मेरे रूम मैं आयी मैं तो उन्ही का इंतज़ार कर रहा था उनको देखते ही मेरी आँखों मैं हवस नज़र आने लगी |
    भाभी बोली मेरे अरे राजा क्या आँखों से चोदोगे क्या ?मैं कहा पीछे हटने वाला था फिर मैंने भाभी को उठा कर गोद मैं बिठा लिया और उनके बदन से खेलने लगा |उनकी उम्र 40 के करीब होगी पर उन्होंने सनीलियॉन की तरह अपना फिगर मेन्टेन किया था | फिर मैंने उनकी नाइटी फाड़ कर फैंक दी फिर उनका ब्लाउज उतारकर फैंक दिया ब्रा खोल कर उनके दोनों मम्मो के बीच मैं किस किया फिर दोनों घुन्डियो पर किस किया भाभी एक दम उछल पड़ी फिर मैं धीरे से आगे बढ़ते हुए उनकी गर्दन पे किस किया फिर उनके होंठो की स्ट्राबेरी फ्लेवर की साडी लिपिस्टिक खा ली और उनके पेटीकोटका नाडा तोड़ दिया क्या एक दम क्लीन सेव चूत थी | भाभी ने मुझ से कहा नाडा खोल लिया होता तोडा क्यों ?मैंने कहा भाभी मैं बहुत दिन से प्यासा हूँ तुम्हारी चूत का मैंने तुम्हारे नाम की कई बार मुठ मारी है और आज ये मेरे सामने है तो मैं रोक नहीं पा रहा हूँ |मैंने कहा भैया ने तो कई बार मारी होगी तुम्हारी चूत पर मैं आज इसको चोदकर भोसड़ा बना दूंगा | भाभी बोली मोरे अभी राजा मेरी चूत भी बहुत भूंखी है तुम्हारे भैया का क्या है डालते ही हो जाता है |आज से ये चूत तुम्हारी जैसे मन कहे वैसे चोदो आज से मैं पूरी तुम्हारी | फिर क्या था मैं टूट पड़ा मैंने उनकी चूत पर अपना मुह रखा और जीभ से उनको चोदने लगा और हांथों से उनकी चुचियो को मसलने लगा भाभी के मुह से अआहऊउह्हअआहह्ह्ह उऊओह्ह्ह औह्ह्ह्ह उह्हह्हह्हह्हह्ह चोदो मुझे डाल दो अपना पूरा लंड फाड़ दो मेरी छूट को अआहऊउह्हअआहह्ह्ह उऊओह्ह्ह औह्ह्ह्ह उह्हह्हह्हह्हह्ह चोदो चोदोऔर तेज से चोदो उम्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह याआअ ऊह्ह्ह्ह अआहह्ह्ह आज तक ऐसा मजा मुझे किसी ने नहीं दिया है मेरे राजा आज तक कहा थे तुम कितने सालो से लंडो की प्यासी चूत की प्यास बुझा दो आज और इसी तरह इस चूत का भोसडा बनाते रहना इतनी मादक सिस्कारियो से पूरा कमरा भर गया | ये तो अच्छा है की मैं थर्ड फ्लोर पे रहता था और भाभी की आवाज नीचे नहीं जा रही थी नहीं मेरी वाट लग जाती | लगभग 25 मिनट की चुदाई के बाद भाभी झड़ने लगी तो उन्होंने मेरा सर अपने मम्मो पे रख कर अपने हाथों से दबाने लगी मैंने चुदाई की स्पीड और बढ़ा दी भाभी का तो हो गया पर मेरा अभी बाकी था तो मैंने अपना लंड उनके मुह मैं दे दिया और भाभी भी इस तरह से लंड चाट रही थी जैसे बहुत दिनों से लंड की भूखी हों | उनके मुह को चोदकर भर दिया अपने वीर्य से भाभी मस्ती से सारा माल चाट गयी और मेरा लंड चाट कर साफ़ कर दिया तभी मेरा लड़ फिर खड़ा हो गया भाभी की फिर एक बार चुदाई की फिर वो चली गई सुबह होने वाली थी चार बज गए थे | जाते वक़्त भाभी ने एक जोर का चुम्मा लिया मेरे होंठो पर और फिर एक चुम्मा लिया मेरे लंड पर और चली गई तो दोस्तों कई बार चोदा अलका भाभी को भी चुदवाना होता है मेरे पास आती है उनको चोदने के बाद मेरे भी हाथ पर बोझ नहीं रहता है |
     
Loading...

Share This Page


Online porn video at mobile phone


திரும்புடி பூவை வைக்கனும் 324মেয়েদের কনডম দিয়ে চুদলে আর কোনো দিন বাচ্চা হবেন না.school பொண்ணு sex stroryমাগিকে চুদতে চুদতে খিস্তি বলার গল্পTamil superanni tamilsex storiesধারাবাহিক চটিവലിയ മുലകള്আমি দেখলাম মাকে কেউ চুদছে বাংলা চটিஎன்.மாமானர்.என்.தொடைகளை.விரித்தார்.నాలుకతొমায়ের সাথে ফেমডম সেক্সammavaiyum akkavayum pala per otha kathaideepa maidm ki khani xxx தேவிடியா வாடிஎன்னை ஓத்த ஆண்கள்Pondatti kuthi storiyரெண்டு பேரும் என் புருஷங்கtelugu sex stores dongamera damad ne mera hot back blous dekh ke mut mara sex storyTakar jnno bouke acting choti golpoচটিবই ছোট্ট মেয়ের এত বড় দুধজোর xxx sex চুদাচুদি কাহিনিaiyear mamiya otha tamil sex storyஆட்டோகாரன் ஓல் போட்டான்Seethal in Tamil Kama kathaikalमस्त लड़की चुद गईகாம தண்டனை புண்டைக்குhot sex malayalam stories അടിപൊളി കമ്പി കഥ കൾ SEX গল্প তোমার দুধ খাবোதமிழ் காமகதை குப்பம்ಮೊದಲರಾತ್ರಿಯ ಬಟ್ಟೆ ಬಿಚ್ಚಿದ ಕಥೆஅசைவ கதைகள்കുണ്ണ മണത്തു oodiyasax video thamil mukk nakkiഅമ്മയുടെ മുതു പൂറ്Xxx video all video khada hokarchodneLahan mulichya pudit lawadaghar ke chaprasi ne ki meri pahli chudaai storywww.chudichuday.comचुदने की लालसाJeth ji ko dhudh dikhaya hindi sex storiবাংলা চটি দ্য বিগ প্রাইজ মা ছেলে এনাল ইনসেস্টలంజపూకు చాపిமேகலா முலைचोदु बनवून सोडतेO barya katta tellugu sex storees comलवडाমা ছেলে চোদা চুদি করে পেটে বানায় দেxxxx giy sex gus tamil காமகதைகள்भाभी बोली मैं कहीं भागी थोड़े ही जा रही हूँതുണി മാറുമ്പോൾ മുല കണ്ടുஅழகு சுன்ணிகையை பிடித்து சுண்ணியில் வைத்தேன்xxx kandam eppti podanum story tamilବିଆ ପୁରୀആൻറ്റിയുടെMamiyarum oru samiyarum sex storiesಅತ್ತಿಗೆ ಕಾಮಾದಾಟഅവള് എന്റെ വായിലേക്ക് തൂറി വളി വിട്ടുहोली में एक रात चाचीको चुची दबाने लगा रन्ग मसलते मसलतेதமிழ் ஆண்டி பெரிய மூலைतिची बोंडे चोखू लागलोবসের সুন্দরি বৌউকে চুদলামவிமலா ஆன்டி செக்ஸ்விடியோTamil velaikari kundikal kamakathaikalफोदीமை பாஸ் காம கதைகள்भाभीला देवरने झवले சந்தோஷ் சுப்பிரமணியம் காம கதைবাংলা চটি লুকিয়ে মা ও তার বয়ফ্রেন্ডের চুদা চুদি দেখার গল্পमामी ने मला बेडरूम मध्ये बोलावून घेतलेআমি ছোট বলে বড় আপু আমার সামনে গোসল চোটি গল্পআমার আখাম্বা ধোন দিয়ে সবাইকে চুদলাম