साले की बीवी को रगड़ कर चोदा

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Aug 20, 2017.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    Joined:
    Aug 28, 2013
    Messages:
    134,296
    Likes Received:
    2,131
    //in.tssensor.ru loading...

    हेलो दोस्तों मैं विनोद आप सभी का इंडियन सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ। मेरे साले की शादी अभी जल्दी ही हुई थी। उसकी बीबी और मेरी होने वाली सरहज का नाम सुलेखा था। वो देखने में काफी हॉट थी। मैं साले के साथ सुलेखा को शादी के लिए देखने गया था। कुछ दिनों बाद शुभ मुहुर्त निकालकर शादी कर दी गयी। मेरे साले ने सुहागरात वाले दिन सुलेखा को नंगा करके उसकी मस्त चूत मारी। साले ने चुदाई वाली कई फोटोज मुझे व्हाट्सअप कर दी थी। दोस्तों मेरी सरहज सुलेखा बहुत ही खूबसूरत औरत थी।
    उसका जिस्म तो संगमर्मर जैसा था। मैंने जब उसे फोटो में नंगा देखा तो मेरा लंड तुरंत खड़ा हो गया था। मन कर रहा था की काश उसे चोदने को मिल जाए तो कितना अच्छा हो। अपनी सरहज की फोटो देखकर मैं जोश में आ गया था और बाथरूम में जाकर मैंने मुठ मार दी थी। कुछ दिनों बाद मेरी बीबी के बच्चा होने वाला था। इसलिए घर पर काम करने वाला कोई था था। मैंने साले से सुलेखा को भेजने के लिए कहा। 2 दिन बाद वो सुलेखा को मेरे घर पर छोड़ गया। फिर अगले दिन चला गया क्यूंकि वो प्राइवेट कम्पनी में काम करता था। उसे छुट्टी बहुत कम मिलती थी। मेरी बीबी के बच्चा 4 -5 दिनों में होने वाला था। 9 महिना पूरा हो गया था। कभी भी बच्चा हो सकता था। सुलेखा को देखकर मैं बहुत खुश था।

    "थैंक यू!! सरहज जी! आप आ गयी काम करवाने" मैंने कहा
    "आप भी ननदोई जी कमाल करते है। आखिर मैं आपकी सरहज हूँ। कैसे मना कर देती" सुलेखा बोली
    मैं उससे खूब मजाक करता था। वो खुलकर मजाक करती थी। बड़े खुले स्वाभाव वाली औरत थी। उसका फिगर देख के मेरा मोटा लंड तुरंत खड़ा हो जाता था।
    "ननदोई जी! बोलिए आज क्या खाना पकाऊ" मेरी खुशमिजाज सरहज सुलेखा बोली
    "ओह मेरा तो बस चले तो तुमको ही खा जाऊं" मैंने मजाक मजाक में कहा।
    "तो खा जाइये ना" सुलेखा बोली
    फिर हम दोनों एक दूसरे को ताड़ने लगे। मेरी बीबी अपने कमरे में लेटी थी। अब वो बेडरेस्ट पर थी। काम करना मना था। मैं सुलेखा के साथ हाल में था। मैंने उसका हाथ पकड़ने की कशिश की पर वो रसोई में भाग गयी। फिर उसने खाना बनाया और सबको खिलाया। दोपहर में सुलेखा अपने कमरे में आराम करने चली गयी। मेरी बीबी प्रेगनेंट थी और अपने कमरे में सो रही थी। ये मौका सुलेखा को चोदने के लिए बिलकुल सही था। क्यूंकि रात में मुझे अपनी बीवी के पास सोना पड़ता था। मेरी बीबी नही जानती थी की मैं सुलेखा को पसंद करता हूँ और उसकी गुलाबी चूत मारना चाहता था। मैंने धीरे से सुलेखा के कमरे के दरवाजा खोला और अंदर चला गया।




    वो बेड पर लेटी थी। मैं उसके पास जाकर धीरे से लेट गया। फिर मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और उसके मुंह पर अपना मुंह रख दिया। मैं उसे किस करने लगा। वो भी मुझे हमेशा से पसंद करती थी और चुदना भी चाहती थी। इसलिए उसने कोई आवाज नही की। मैं उसे किस करने लगा। सुलेखा से साड़ी ब्लाउस पहन रखा था। वो बहुत पतली दुबली, छरहरी और हॉट लड़की थी। इसलिए मुझे वो खासतौर से पसंद थी। धीरे धीरे मेरे हाथ उसके पेट को सहलाने लगे। पेटीकोट पर उसने अपनी साड़ी बाँध रखी थी। पर उसके उपर उसक पेट खुला हुआ था। मैं सहलाने लगा। ओह्ह गॉड!! कितना पतला और छरहरा पेट था उसका। काफी देर तक मैं उसके गुलाबी होठो का चूसता और पीता रहा। फिर सुलेखा मेरे उपर आ गयी। वो मुझे बड़े जोश के साथ चुम्बन दे रही थी। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
    "बोलो आज तुमको खा जाऊं???" मैंने सुलेखा से फिर से पूछा
    "ननदोई जी क्या चीज खाना पसंद करोगे???" वो मुस्कुराकर बोली
    "तुम्हारी चूत आज मैं खाऊंगा सरहज जी" मैंने कहा
    उसके बाद सुलेखा मुझे फिर से किस करने लगी। हम दोनों हँसने लगे और बिस्तर पर लोटने लगे। मैंने सुलेखा के दूध ब्लाउस पर से पकड़ लिए और कस कस के दबाने लगा। वो "..हाईईईईई.. उउउहह.. आआअहह" करने लगी। दोस्तों आपको बता दूँ की सुलेखा का बदन बिलकुल भरा हुआ था। वैसे तो वो दुबली पतली थी पर जहाँ पर उसके बदन में गोश होना चाहिए वहां पर खूब था। उसके मम्मे, जांघे और पुट्ठे बहुत मांसल थे। इसलिए वो मुझे बहुत हॉट और सेक्सी माल लगती थी। मैं तेज तेज उसके ब्लाउस के उपर से उसकी नर्म नर्म चूची दबा रहा था। सुलेखा को कुछ ही देर में बड़ा जोश चढ़ गया था। वो मेरे साथ ही बिस्तर पर लोट रही थी। वो कितना ही अपने मम्मे मेरे हाथ की गिरफ्त से छुड़ाने की कोशिश कर रही थी पर मैं छोड़ ही नही रहा था। इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम


    loading...

    फिर उसे मैंने अपनी तरफ खींच लिया और सीने से लगा लिया। मेरा सीधा हाथ उसके पेटीकोट में घुस गया। धीरे धीरे मैं उसकी टाँगे और गोरी चिकनी जांघ सहलाने लगा। कुछ देर बाद मेरा हाथ उसकी चड्डी पर पहुच गया। मेरी सरहज सुलेखा ने डीसायनर पेंटी पहन रखी थी। लेस वाली पेंटी थी वो। धीरे धीरे मैं उसकी चूत पेंटी से उपर से सहलाने लगा। सुलेखा "ओह्ह माँ..ओह्ह माँ.उ उ उ उ उ..अअअअअ आआआआ.." की आवाज निकालने लगी। उसको भी सेक्सी फील हो रहा था। मेरी बीबी अगर जब रही होती तो मैं कभी अपनी सरहज को चोद नही पाता। ये तो कहो की वो अपने कमरे में सो रही थी। इधर मैं सरहज के साथ जवानी और प्यार के मजे लूट रहा था। धीरे धीरे मेरे हाथ उसकी पेंटी पर चूत के ठीक उपर दौड़ने लगे। सुलेखा की चूत की फांके और चूत का दाना मुझे महसूस हो रहा था। धीरे धीरे मैं और तेज तेज उसकी बुर सहलाने लगा। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
    अचानक से मैंने उसकी पेंटी में हाथ डाल दिया और चूत में अपनी 2 हाथो की ऊँगली डाल दी। सुलेखा बिस्तर पर कूद पड़ी। पर मैंने उसे कसके पकड़ लिया था। फिर जल्दी जल्दी मैं उसकी चुद्दी में ऊँगली करने लगा। सुलेखा पागल हो रही थी और "ओहह्ह्ह.ओह्ह्ह्ह.अह्हह्हह.अई..अई. .अई. उ उ उ उ उ." की गर्म गर्म आवाजे निकाल रही थी। वो बार बार अपना मुंह खोलकर गर्म गर्म सांसे छोड़ रही थी। मैं पूरी तरह से कमीनापन दिखा रहा था। जल्दी जल्दी मैं उसकी चूत फेटने लगा। सुलेखा की गांड फट गयी थी। वो इतनी चुदासी हो गयी की उसने अपनी साड़ी और पेटीकोट बिलकुल उपर उठा दिया और दोनों पैर खोल दिए।
    "ननदोई जी...अब मुझे मत तड़पाओ!! बस जल्दी से चोद डालो मुझे" सुलेखा किसी रंडी की तरह चिल्लाई
    "बहन की लौड़ी!! इतनी जल्दी मैं तुजे नही चोदूंगा। पहले खूब तड़पाऊंगा। खूब सेक्स टेंशन दूंगा उसके बाद तेरी भोसड़ी बजाऊंगा" मैंने कहा
    उसके बाद मैंने जल्दी से उसकी लाल रंग की पेंटी निकाल दी। सुलेखा नंगी हो गयी। उसने अपनी साड़ी और पेटीकोट को उपर उठा लिया। मैंने फिर से अपने हाथ की 2 ऊँगली उसके भोसड़े में पेल दी और जल्दी जल्दी फेटने लगा। सुलेखा की तो जान निकल रही थी। वो "आआआअह्हह्हह...ईईईईईईई..ओह्ह्ह्..अई. .अई..अई...अई..मम्मी.." की कामुक आवाजे निकाल रही थी। उसे बड़ी बेचैनी महसूस हो रही थी। मुझे और जोश चढ़ गया। मैं और तेज तेज उसकी चूत में ऊँगली करने लगा। बार बार अंदर बाहर करने लगा। सुलेखा का बुरा हाल था। दोस्तों, जब मैंने अपनी ऊँगली निकाली तो उसक सफेड रंग का चूत का रस मेरी ऊँगली में लग गया था। थोड़ा मैंने चाट लिया, थोडा सुलेखा को चटा दिया।


    loading...

    उसके बाद मैंने लेट गया और उसकी चूत पीने लगा। दोस्तों मुझे कहना होगा की उसकी चूत बेहद खूबसूरत थी। खूब बड़ी सी उभरी हुई चुद्दी थी उसकी। वैसे ही पिचकी चूत मुझे चोदना पसंद नही है। डबलरोटी की तरह भरी और उठी चूत मारना मुझे पसंद है। मैं जल्दी जल्दी अपनी खूबसूरत सरहज सुलेखा की चूत पीने लगा। उसकी बुर के होठ काफी बड़े बड़े और बाहर की तरह निकले हुए थे। मैं किसी रबड़ी की तरह उसका भोसड़ा पी रहा था। सुलेखा "..मम्मी.मम्मी...सी सी सी सी.. हा हा हा ...ऊऊऊ ..ऊँ. .ऊँ.ऊँ.उनहूँ उनहूँ.." की सेक्सी आवाजे निकाल रही थी। मैंने उसकी चूत के बड़े बड़े होठो को दांत से पकड़कर उपर की ओर खींच लेता था। सुलेखा को मैं भरपूर मजा दे रहा था। 15 मिनट तक मैंने उसकी रसीली चूत का सेवन किया।
    उसके बाद मैंने अपनी जींस निकाल दी। फिर अंडरवियर निकाल दिया। मेरा 8" का लंड तो कबसे तना हुआ था। जल्दी से मैं सुलेखा के भोसड़े में लंड हाथ से पकड़कर डाल दिया। फिर मैं उसे चोदने लगा। सुलेखा चुदने लगी। मेरा मोटा लंड खाने लगी। मैं लंड को अंदर बाहर करने लगा। सुलेखा "...उई. .उई..उई...माँ..ओह्ह्ह्ह माँ..अहह्ह्ह्हह." की गर्म सिस्कारियां निकालने लगी। धीरे धीरे मैं उसे तेजी से चोदने लगा। वो बेकाबू हो रही थी। अपना पेट उपर की तरह वो उठा रही थी। उसकी चूत में सेक्स और अन्तर्वासना की आग लग गई थी। मैंने उसकी दोनों कलाई को कसके दबोच लिया और जल्दी जल्दी अपनी कमर चलाकर उसकी चूत बजाने लगा। सुलेखा तडप रही थी। उसकी आँखें बंद थी। मैं तो बस उसे ही देख रहा था। फिर मैं और तेज तेज उसे पेलने लगा। 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना माल उसकी रसीली चूत में ही छोड़ दिया।
    दोस्तों जैसे मैंने अपना लौड़ा बाहर निकाला, मेरा सफ़ेद रंग का माल उसकी चूत से बाहर निकलने लगा और बेड की बेडशीट पर गिर गया। कुछ देर बाद मैंने अपनी सरहज को कुतिया बनाकर चोदा। फिर उसने वो बेडशीट धो दी। कहानी आपको कैसे लगी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम


    कहानी शेयर करें : loading...
     
Loading...

Share This Page


Online porn video at mobile phone


இனிய குடும்ப காமக்கதைகள்www. Sxe golpo bangla .comகாலேச் _ தமிழ் XXXপারভিন চুদামায়ের পাছা শীতের দিন periya pundai kama veri ulla lediysకొడుకు దెంగడం లేదనిஅத்தை மகளை கதற கதற ஓத்த நண்பர்கள்मामी क साथ हनीमूनपुच्ची फुगलीও পাপা আমাকে চুদে বিয়ে করবেமுலைய என் மேல தேச்சிट्रेन में अजनबी आंटी की चूत चाटाআমি চুদবোই আজAnnan thangchi Jodi kamakathikalঅসীম তৃষ্ণা pdfDidi ki jetani sobt sex story himdiলিঙ্গ ভোদায় কিভাবে ঢুকায়বাংলা চটি পরিমিতার একদিনউফফফফফফ স্যার bangla chotiଗରମ ବିଆ ଗପসেক্স স্টোরি ডাক্তার রোগীxxx deshi videos chandom उरम 18 वषஅன்பளிப்பு கணவரின் உத்யோக உயர்விற்கு காமகதைஅண்ணி அமிதா ச***** வீடியோभाभीची गरम पूच्चीबहेण की चुदाई मराठीകുണ്ടിയിലെ രോമംbahuki chutme sasurkaஅம்மாவும் வேலைகாரியும் தமிழ் லெஷ்பியன் காமகதைmalayalam pannu thurunna vidoesबेटी ने कहा पाप हमको लंड दो सैकसी विडीयो हिंदीமதுரை கிராமத்து காம வீடியோआईला घोडी बनवली नागडीবন্ধু তার নিজের মাকে চুদছে লুকিয়ে দেখলামbangla chotii- দাঁড় করিয়ে দিয়েবৰ মাৰ লগত sex storyபாவாடை தூக்கி காட்டும் அம்மா கதைमाँ की चुदाई ट्यूशन फीस के लिएGand mein bhejiye ki pocha karne wala sex videoপাড়ার দুধওয়ালিse நிலா டீச்சர்boss.ne.chuti.mareeমাকে চুদে ফেনা করে ফেলেছিBangla sex দুধ খাওয়ার গরম খিস্তি story.comআমার ভোদায় কামর দিতে লাগলPondati gangbang rape kama kathigalஎனது புண்டையை அவனது சாமானால்kaku chi gand ki dararचूदवाபெரிய முளை ஆன்ட்டி sex வீடியோஸ்சிம்ரான்.கூதி.நக்கா মাকে না চুদলে আমি বাচবো নাଦୁଧ ସାଇଜ୍சூடான இளம் ஆண்டியின் காமவெறிக்கதைகள்बहन की चूचीবাংলা চটি বৌদির ভোদা ফাটামা ছেলে চুদাচুদি বাংলাচটি কামদেবীবাবা মা তোমরা এসে দেখে যাও আমার শশুর ভাতার আমাকে কি ভাবে চুদছেகணவன் மனைவி பொறாமை காம கதைகள்shobhanam ante anti thelugu storrysশিউলিকে চোদার গল্পತುಲ್ಲು ಮೊಲೆ ತಂಗಿதமிழ் புது காமகதைகள் அக்கா தங்கைபள்ளி கூடம் புண்டயைkamakathai lover legginssaxse satorewwwhindeഅമ്മൂമ്മയെ പണ്ണിയ കഥsex যৌন অগো মৃত্তিকার মা’ – বাংলা চটি ধারাবাহিক – পর্ব – ০১maligai kadaikarar manaivi sex storychudai ke liye mom ne job kiya school me apni dost ka aathআপু আমাকে গোসল নুনু জোর করে লজ্জা।টয়লেট ফেটিস মা চটিবুচির ভিতর এক হাত ডুকানো স্রেকআমার বৌয়ের অডিশন পর্বSinthuthulani mulai pundaஆசையில் புரட்டி ஓத்தேன்Indian tamil নাইকাদের নগ্ন দুধ বা xxx photomla வப்பாட்டி காமகதைகள்www. Sxe golpo bangla .comTelugysex.compawsatil marathi xxx kahaniपुचीमुले कसे जवतातthreesome malayalam latest kambi kathakal 2019পচপচ এর Stroe